Arun kr.

Arun kr. Lives in Samastipur, Bihar, India

कुछ नहीं बस शब्दों से खेल लेता हूँ।

  • Latest
  • Popular
  • Repost
  • Video

White आजाद है हम, आजाद हो तुम पूछो आजादी गांव की औरतों से पतृसत्ता अब भी भारी है चार दिवारी में कैद नारी है एक गांव से दूसरे गांव या एक गांव से दूसरे शहर तब ही आती -जाती है जब इलाज कराना होता है या जब बेटी बियाही जाती है फिर उस गांव या शहर से सदा के लिए जकड़ी जाती है मायके से ससुराल, ससुराल से मायके तक ही जीवन सिमट कर रह जाती है आजाद है हम, आजाद हो तुम पूछो आजादी गांव की औरतों से दुनियादारी का कुछ पता नही बदहाल है जीवन फिर भी किसी से कोई खता नही हक ओर नारीवाद इन्हें कंहा समझ है आता घर का बोझ इन पर जो लादा जाता इन्हें समझावो पर इन्हें तो परिवार ही नजर आता अपने ख़्वाब ,अपनी इच्छाएं सब परिवार पर ही है लुटाता आजाद है हम,आजाद हो तुम पूछो आजादी गांव की औरतों से? ©Arun kr.

#विचार #sad_shayari  White  आजाद है हम, आजाद हो तुम
पूछो आजादी गांव की औरतों से
पतृसत्ता अब भी भारी है
चार दिवारी में कैद नारी है
एक गांव से दूसरे गांव
या
एक गांव से दूसरे शहर
तब ही आती -जाती है
जब इलाज कराना होता है
या
जब बेटी बियाही जाती है
फिर उस गांव या शहर से सदा के लिए जकड़ी जाती है
मायके से ससुराल, ससुराल से मायके तक ही जीवन सिमट कर रह जाती है
आजाद है हम, आजाद हो तुम
पूछो आजादी गांव की औरतों से
दुनियादारी का कुछ पता नही
बदहाल है जीवन फिर भी किसी से कोई खता नही
हक ओर नारीवाद
इन्हें कंहा समझ है आता
घर का बोझ इन पर जो लादा जाता 
इन्हें समझावो पर इन्हें तो परिवार ही नजर आता
अपने ख़्वाब ,अपनी इच्छाएं सब परिवार पर ही है लुटाता
आजाद है हम,आजाद हो तुम
पूछो आजादी गांव की औरतों से?

©Arun kr.

#sad_shayari

13 Love

White हमें खबर है फिर भी बेखबर है याद आते हर रोज फिर भी हम नही करते खोज कहने को काम बहुत है पर खाली बैठते भी बहुत है याद हो ,ख़्वाल भी है फिर भी भूलने के बहाने बनाये है मैं ही क्यों के सवाल दिमाग मे बैठाए है हां कोई कब तक एक ओर से एहसास जताए दूसरा जब बेखबर हो जाये फिर रुक जाना सही हैं याद हो फिर भी भूलने का बहाना सही है । ©Arun kr.

#विचार #sad_quotes  White हमें खबर है
फिर भी बेखबर है
याद आते हर रोज
फिर भी हम नही करते खोज
कहने को काम बहुत है
पर खाली बैठते भी बहुत है
याद हो ,ख़्वाल भी है
फिर भी भूलने के बहाने बनाये है
मैं ही क्यों के सवाल दिमाग मे बैठाए है
हां कोई  कब तक 
एक ओर से एहसास जताए
दूसरा जब बेखबर हो जाये
फिर रुक जाना सही हैं
याद हो फिर भी भूलने का बहाना सही है ।

©Arun kr.

#sad_quotes

14 Love

शुक्रिया मेरे दोस्त शुक्रिया इलाहाबाद दुआ है रहो सदा आबाद तुम्हारा ये प्यार ,अपनापन हर घड़ी साथ खड़ा होना अपनो की कमी कभी न खलना वक्त बुरा हो तो हौसला बढ़ाना शने -शने कुछ नया कर जाना सीखा जीने का एक नया सलिका मेरा सबका प्रिय हो जाना सबके चेहरे पर हँसी ले आना अरुण कंही दिख जाए तो अपने पास बुलाना फिर उसका पानी पी अपना प्यास बुझाना कभी बंगाली कभी बिहारी कभी चार राज्यों की दावेदारी का तगमा लगाना कोई बात हो तो हमें बताना किसी से कभी न घबराना मेरा शांत स्वभाव चंचल हो जाना जो जंहा जैसा मिला,उसी ढंग में ढल जाना तुम सब का प्रिय हो जाना ये तुम्हारा अपनापन और प्यार है जिससे मेरा गहरा लगाव है अंत में एक बात मिले हम जिससे भी सबका नेकी भरा स्वभाव हैं शुक्रिया मेरे दोस्त शुक्रिया इलाहाबाद दुआ है रहो सदा आबाद🙏 ©Arun kr.

#विचार  शुक्रिया मेरे दोस्त
 शुक्रिया  इलाहाबाद
दुआ है रहो  सदा आबाद
तुम्हारा ये प्यार ,अपनापन
हर घड़ी साथ  खड़ा होना
अपनो की कमी कभी न खलना
वक्त बुरा हो तो हौसला बढ़ाना
शने -शने कुछ नया कर जाना
सीखा जीने का एक नया सलिका
मेरा सबका प्रिय हो जाना
सबके चेहरे पर हँसी ले आना
अरुण कंही दिख जाए तो अपने पास बुलाना
फिर उसका पानी  पी अपना प्यास बुझाना
कभी बंगाली  कभी बिहारी
कभी चार राज्यों की दावेदारी का तगमा लगाना
कोई बात हो तो हमें बताना 
किसी से कभी न घबराना 
मेरा शांत स्वभाव चंचल हो जाना
जो जंहा जैसा मिला,उसी ढंग में ढल जाना
तुम सब का प्रिय हो जाना
ये तुम्हारा अपनापन और प्यार है
जिससे मेरा गहरा लगाव है
अंत में एक बात
मिले हम जिससे भी  सबका नेकी भरा स्वभाव हैं
शुक्रिया मेरे दोस्त 
शुक्रिया इलाहाबाद
दुआ है रहो सदा आबाद🙏

©Arun kr.

शुक्रिया मेरे दोस्त शुक्रिया इलाहाबाद दुआ है रहो सदा आबाद तुम्हारा ये प्यार ,अपनापन हर घड़ी साथ खड़ा होना अपनो की कमी कभी न खलना वक्त बुरा हो तो हौसला बढ़ाना शने -शने कुछ नया कर जाना सीखा जीने का एक नया सलिका मेरा सबका प्रिय हो जाना सबके चेहरे पर हँसी ले आना अरुण कंही दिख जाए तो अपने पास बुलाना फिर उसका पानी पी अपना प्यास बुझाना कभी बंगाली कभी बिहारी कभी चार राज्यों की दावेदारी का तगमा लगाना कोई बात हो तो हमें बताना किसी से कभी न घबराना मेरा शांत स्वभाव चंचल हो जाना जो जंहा जैसा मिला,उसी ढंग में ढल जाना तुम सब का प्रिय हो जाना ये तुम्हारा अपनापन और प्यार है जिससे मेरा गहरा लगाव है अंत में एक बात मिले हम जिससे भी सबका नेकी भरा स्वभाव हैं शुक्रिया मेरे दोस्त शुक्रिया इलाहाबाद दुआ है रहो सदा आबाद🙏 ©Arun kr.

16 Love

White अब नही आते सपने न ही हसीन ख़्वाब देखता हूँ खुद को तो बड़ी बेबसी में पाता हूँ जिद्द और जीत सिमटने लगे हैं चाह भी मिटने लगे हैं ख़्वाब शंहशाह का अब तंगी में गुजरने लगे हैं चेहरे की रौनक अब झुर्रियों में बदलने लगे है झूठी मुस्कुराहट और हौसलों की शान लिए फिरते हैं कोई उम्मीद नही फिर भी तैयारी में लगे है कहते हैं अपनों की आश और अपना प्रयास जारी है इस पर्तिस्पर्थी दौर में सिस्टम की मार भारी हैं अब नही आते सपने न ही हसीन ख़्वाब न ही बनने को नवाब। ©Arun kr.

#कविता #Moon  White अब  नही  आते सपने 
न ही हसीन ख़्वाब
देखता हूँ खुद को तो बड़ी बेबसी में पाता हूँ
जिद्द और जीत सिमटने लगे हैं
चाह भी मिटने लगे हैं
ख़्वाब शंहशाह का अब तंगी में गुजरने लगे हैं
चेहरे की रौनक अब झुर्रियों में बदलने लगे है
झूठी मुस्कुराहट और हौसलों  की शान लिए फिरते हैं
कोई उम्मीद नही  फिर भी तैयारी में लगे है कहते हैं
अपनों की आश और अपना प्रयास जारी है
इस पर्तिस्पर्थी दौर में सिस्टम की मार भारी हैं
अब नही आते सपने 
न ही हसीन ख़्वाब
न ही बनने को नवाब।

©Arun kr.

#Moon

11 Love

तुम पूजो देवी देवता हम पूजे फुले नही चाहिये मन्दिर-मस्जिद दे दो हमको अपने ढंग से जीने हम मांगे अपना हक और अधिकार आने तो दो हमे भी बराबरी में सरकार काहे डर है तुमको लगा लेने दो ज्ञान की डुबकी हमे भी मालूम है हमे गंगा कितना पवित्र है हमारा विरोध तो आडम्बर और ब्राह्मणवाद से है पतृसता और जात-पात से है एकाधिकार और वर्चस्ववाद से है ना कि किसी इंसान से है जियो औऱ जीने दो हम भी तो चाहते है रहे सब एक समान हम भी इसी समाज का हिस्सा है हमे न नकारा जाए बात जब हिस्सेदारी की हो तो हमारा नाम भी पुकारा जाए। महात्मा फुले जयंती की हृदय से वंदन- अभिनंदन ,कोटि -कोटि नमन🙏🙏🙏 ©Arun kr.

#विचार #MahatmaFule  तुम पूजो देवी देवता
हम पूजे फुले
नही चाहिये मन्दिर-मस्जिद
दे दो हमको अपने ढंग से जीने
हम मांगे  अपना हक और अधिकार
आने तो दो हमे भी बराबरी में सरकार
काहे डर है तुमको 
लगा लेने दो ज्ञान की डुबकी हमे भी
मालूम है हमे गंगा कितना पवित्र है
हमारा विरोध तो आडम्बर और ब्राह्मणवाद से है
पतृसता और जात-पात से है
एकाधिकार और वर्चस्ववाद से है
ना कि किसी इंसान से है
जियो औऱ जीने दो
हम भी तो चाहते है रहे सब एक समान
हम भी इसी समाज का हिस्सा है
हमे न नकारा जाए
बात जब हिस्सेदारी की हो तो हमारा नाम भी पुकारा जाए।
महात्मा फुले जयंती की हृदय से वंदन- अभिनंदन ,कोटि -कोटि नमन🙏🙏🙏

©Arun kr.

White प्यार किसी को पा लेना या शारिरिक संबंध भर ही नही हैं प्यार सुख की अनुभूति या ना मिलने का दुख भर ही नही हैं प्यार बदलाव है ,सुधार है ,क्रांति है ,विद्रोह है जाति से, धर्म से,उच्च -नीच, भेदभाव से रूढ़िवादी रीति- रिवाज और लोगों के अलगाव से प्यार मुक्ति है दहेज से , शोषण , उत्पीड़न , अत्याचार से पतृसता से लिपटे जंजीर से प्यार प्रतीक है समानता का आत्मनिर्णय और स्वालंबन का प्यार दूर करता है लिंग भेद को चारदीवारी कैद से कैदी को प्यार जीत है विश्वास का ,भरोसे का, एक -दूजे के साथ का प्यार उड़ान है अपनी पहचान का ,अपनी अरमान का प्यार गवाह है सिमा पार सिमा का मेहनतकश दशरथ मांझी का प्यार राजा और रंक की खाई को भरता है प्यार तो इंसानियत की पाठ पढ़ता है । ©Arun kr.

#Couple #लव  White प्यार किसी को पा लेना या शारिरिक संबंध भर ही नही हैं
प्यार सुख की अनुभूति या ना मिलने का दुख भर ही नही हैं
प्यार बदलाव है ,सुधार है ,क्रांति है ,विद्रोह है
जाति से, धर्म से,उच्च -नीच, भेदभाव से
रूढ़िवादी रीति- रिवाज और लोगों के अलगाव से
प्यार  मुक्ति है दहेज से , शोषण , उत्पीड़न , अत्याचार से
पतृसता से लिपटे जंजीर से
प्यार प्रतीक है समानता का
आत्मनिर्णय और स्वालंबन का
प्यार दूर करता है लिंग भेद को
चारदीवारी  कैद से कैदी को
प्यार जीत है विश्वास का ,भरोसे का, एक -दूजे के साथ का
प्यार उड़ान है अपनी पहचान का ,अपनी अरमान का
प्यार गवाह है सिमा पार सिमा का
मेहनतकश दशरथ मांझी का
प्यार राजा और रंक की खाई को भरता है
प्यार तो इंसानियत की पाठ पढ़ता है ।

©Arun kr.

#Couple

15 Love

Trending Topic