Zuber Khan

Zuber Khan

غم کی جاگیر ملی ہے وراثت میں مجھ کو اور میں اپنی جاگیر میں رہتا ہوں نوابوں کی طرح

  • Latest
  • Popular
  • Repost
  • Video
#writersofinstagram #poetrycommunity #شاعری #nojotoapp #wordporn

#shyri#nojoto #poetry #love #shayari #writersofinstagram #poetrycommunity #nojotoapp #wordporn #th

1,971 View

#شاعری۔ #Mulaayam  किस ज़रूरत को दबाऊं किस को पूरा‌ कर लूं 
अपनी तनख्वाह को कई बार गिना‌ है मैने

©Zuber Khan

#Mulaayam

45 View

मेरे लफ्जों को इतनी शिद्दत से ना पढ़ा करो कुछ याद रह गया तो भूल नहीं पाओगे ©Zuber Khan

#شاعری۔ #kitaab  मेरे लफ्जों को इतनी शिद्दत से ना पढ़ा करो कुछ याद रह गया तो भूल नहीं पाओगे

©Zuber Khan

#kitaab

11 Love

#شاعری۔ #adventure  लहर है, हौंसला है, रब है, हिम्मत है, दुआएं हैं,

किनारा करने वालों से किनारा कर लिया मैंने"

©Zuber Khan

#adventure

36 View

#شاعری۔ #rush  मुश्किल थी संभलना ही पड़ा घर के वास्ते,
और घर से निकलना ही पड़ा घर के वास्ते,
मजबूरियों का नाम हमने शौक रख दिया,
और शौक बदलना ही पड़ा घर के वास्ते

©Zuber Khan

#rush shayri#

136 View

मुनाफिकों पे भरोसा छोड़ दे आरिफ नज़र बची तो तेरा सर उतार डालेंगे नज़र मेरी हमेशा दुश्मनों पे रही यह क्या खबर थी के अपने ही मार डालेंगे ©Zuber Khan

#شاعری۔ #shayri #alone #Zuber  मुनाफिकों पे भरोसा छोड़ दे आरिफ 
 नज़र बची 
तो तेरा सर उतार डालेंगे  
नज़र मेरी हमेशा दुश्मनों पे रही 
यह क्या खबर थी के अपने ही मार डालेंगे

©Zuber Khan

#alone #shayri#Zuber khan

10 Love

Trending Topic